26 January Republic Day Wishes

26 January Republic Day Wishes

26 January Republic Day Wishes |

गणतंत्र दिवस फर्राटेदार शेर और शायरी हिंदी में

 

 

26 January Republic Day Wishes, नमस्ते प्यारे दोस्तों, आज हम आपके लिए देश प्रेम से रंगारंग खूबसूरत शायरी लाये है। दोस्तों हमने अपनी कविता शायरी में देशभक्ति भावनाओं को बहुत अलग-अलग तरीकों से व्यक्त किया है। हमारे सामान्य जीवन में अपने देश और उसके प्रति प्रेम को लेकर जो भावनाएँ होती हैं, हमने वह व्यक्त की है अगर इसमें कुछ आप भी जोड़ना चाहे तो हमें कमेंट करके भेज दीजिये। हम आपके नाम सहित आपकी देश भक्ति पंक्तियों शायरी को सबसे ऊपर दिखाएंगे। तो दोस्तों इन खूबसूरत देश भक्ति पंक्तियों को पढ़ें और इसे अपने सभी दोस्तों और रिस्तेदार में देश प्रेम जाग्रत करे। हमारी ये खूबसूरत पोस्ट शयेर करें। आपका कीमती समय देने के लिए आपका दिल से धन्यवाद। आपका समय शुभ हो।

 

 

हर दिल हमारा एक है।
और एक है हमारी जान। .
प्यारा हिंदुस्तान हमारा है
और हम हिंदुस्तान की शान। .
इसकी सुरक्षा के लिए
मेरा सारा जीवन कुर्बान। .

 

माँ सौगंध मुझे इस मिट्टी की मैं देश नहीं मिटने दूँगा।
पुर्जा – पुर्ज़ा भले काट जाये पर कदम न डिगने दूँगा।
माँ आँच ना आने दूँगा वतन पर भले में मिट जाऊँगा।
वचन जो लिया है भारत माँ से में वचन वह निभाऊँगा।

 

भारत देश हमारा हमें अपने प्राणो से अधिक है प्यारा।
इसकी सुरक्षा करने हर – घर से निकला एक सितारा।
अब हम इन मक्कार काफिरों की गर्दन उखाड़ फेकेंगे।
माँ भवानी भारती की सौगंध इनकी नस्ले उखाड़ फेकेंगे।

 

हर जन्म में हिंदुस्तान मिले बस यही फ़रमान करता हूँ।
अपने वतन की मिटटी को में बारम्बार प्रणाम करता हूँ।
में आजादी के वीरों का तह दिल से सम्मान करता हूँ।
में भारत माँ का बेटा हूँ भारत का गुणगान करता हूँ।

 

26 January Republic Day Wishes

 

है मोहब्बत अपने वतन से इस मिट्टी से बहुत प्यार।
इस धरती की रक्षा के लिए मेरा सारा जीवन निसार।

 

बेतोड़ है मोहब्बत अपनी वतन से हम
माथे तिलक इस मिटटी से लगते है।
हर वक्त हम इसी की खातिर जीते है
और इसी की सुरक्षा के लिए मर जाते है।

 

जब भी मिले जन्म वतन हो हिंदुस्तान हमारा।
जमी पर घर है फिर भी हम जन्नत में रहते है।
इसकी रक्षा के लिए हम जान ऐ तन करते है।
हम बड़े ही खुश नाशीब है भारत में रहते है।

 

Desh Bhakti Sher O Shayari In Hindi Language

Desh Bhakti Shayari in Hindi | Status Independence Day

 

बनाना है हमें अपनी किस्मत अपने हाथों से।
भागना है दुश्मनो को मार – लातों – लातों से।
वह गुरु दी सौ दुश्मन की गर्दन उखाड़ देंगे।
अब न कोई हम भूल पुरानी जैसी करने देंगे।

 

बस एक ही चाहत है मेरी की ऐसी भी एक शाम आये।
मेरे प्यारे देश की सरहद से मेरी का मौत पैगाम आये।
उस दिन झूम उठे मेरा पिता मेने लाल नहीं खोया और कहे
बस इसी वक्त का इंतजार था मेरा खून देश के काम आया।
बस एक ही चाहत है मेरी की ऐसी भी एक शाम आये।

 

माँ – भारती से एक ही गुज़ारिश करता हूँ में सदा।
कोई और आरजू नहीं है मेरी तेरी भक्ति के शिवा।
मर जाऊँ तो मेरी ज़रा सी ही पहचान लिख देना।
इतनी इल्तजा मेरे सीने पर हिन्दुस्तान लिख देना।

 

मेरा वतन परस्ती प्रेम बहुत पुराना।
मेरा भारत देश मुझे प्राणो से प्यारा।

 

किसी गजरे की खुशबू को में छोड़ आया हूँ।
मेरे घर की चहकती चिड़िया छोड़ आया हूँ।
आया बुलाबा वतन से सबके चेहरे मायूस थे।
अपनी माँ की बाँहों को तरसता छोड़ आया हूँ।

 

Republic day shayari

 

Desh Bhakti Thought Hindi Mai

Desh Bhakti Quotes In Hindi Language

Php And Mysql HTML CSS. We provide free blog and website

1 Comment

Comments are closed